आज इस लेख के माध्यम से हम आपको बतायेंगे की पक्षी या तोते को बोलना कैसे सिखाये. सबसे पहले हमे ये जानने की जरुरत हैं पक्षियों और तोते की कोनसी नश्ले बोलती हैं साथ ही किन किन पक्षियों में बोलने की क्षमता होती हैं.

तोते को बोलना कैसे सिखाये , तोतो को ट्रेनिंग कैसे दे

किसी भी पक्षी को बोलना सिखाने के लिए सबसे पहले आपके अंदर कॉन्फीडेंस होना चाहिए यानी आपके अंदर धेर्य होना चाहिए. पक्षी को बोलना सिखाने के लिए आपको पक्षी को रोजाना टाइम देना पड़ेगा. आपने जो भी पक्षी बोलने सिखाने के लिए चुना हैं आपको उसके बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए तभी आप उसे बोलना सीखा सकते हैं.

पक्षियों की कुछ प्रजातिया हैं जोकि आसानी से बोलना सीख जाती हैं जिसमे बजरीगर , कोकटेल , अमेजन पैरेट , इंडियन रिंग नेक पैरेट यानी पहाड़ी तोता और मैना , अफ्रेकिन ग्रे पैरेट ये वो मुख्य पक्षियों की प्रजातिया हैं जो आसानी से बोलना सीख जाती हैं. आप इन पक्षियों में से किसी एक पक्षी का चुनाव कर सकते हैं. आपको बता दे की भारत में इंडियन रिंग नेक पैरेट यानी पहाड़ी तोता और मैना को भारत में पालना गैरक़ानूनी हैं.

अब आपने पक्षी का चुनाव कर लिया हैं पक्षी का चुनाव करने के बाद सबसे पहले पक्षी के और आपके बीच में एक बौन्डिंग होना बहुत जरूरी हैं यानी पक्षी आप से डरे नही जब तक पक्षी आपसे डरता रहेगा तब तक पक्षी आपकी किसी भी बात यानी ट्रेनिंग की बाते नही मानेगा. इसलिए बौन्डिंग होना बहुत जरूरी हैं ऐसे में पक्षी के पास जब आप जायेंगे तो पक्षी डरकर दूसरे कोने में चला जाएगा. जब आप पक्षी के साथ समय बिताएंगे तो पक्षी आपकी बाते मानने लगेगा.

आपको पक्षी को कैसे बोलना सिखाना हैं कैसे ट्रेनिंग देनी हैं इसके लिए आपको एक तरह गाइडलाइन बनानी होगी यानी आपको पक्षी को आपको क्या क्या चीजे बोलना सिखानी हैं. पक्षी को हम जब भी ट्रेनिंग देंगे. शुरूआत में पक्षी को सिखाने का समय कम होना चाहिए 5 मिनट से ज्यादा का शेशन शुरुआत में नही होना चाहिए. आप सुबह और शाम दोनों समय पक्षी को 5 -5 मिनट ट्रेनिंग दे सकते हैं.

पक्षी को सिखाने की शुरुआत हमेशा छोटे शब्दों के साथ ही करनी चाहिए . सबसे पहले हमे पक्षी का एक नाम रख देना चाहिए उसको उसी नाम से पुकारना चाहिए. इस से पक्षी को ये पता चल जाएगा की उसका ये नाम हैं. सबसे पहले पक्षी को हेल्लो , हाय , गुड बाय , गुड नाईट जैसे शब्द सिखाने चाहिए. ऐसा रोजाना पक्षी को सिखाये पक्षी धीरे धीरे सिखने लगेगा इसमें 15 दिन से 1 महीने तक का समय पक्षी को सीखने में लग सकता हैं. आपको बता दे की पक्षी एक बार एक शब्द को याद कर लेता हैं तो फिर उसको भूलता नही हैं. ट्रेनिंग में पक्षी को सीखने में समय जरुर लगता हैं लेकिन सीखने के बाद पक्षी शब्दों को भूलता नही हैं.

जब भी आपका कोई पक्षी कोi नया शब्द सीखता है तो उसे ट्रीट के तोर पर कुछ खाने को जरुर दे . ऐसे में पक्षी को महसूस होता हैं की उसने कुछ अच्छा काम किया हैं और वो जल्दी जल्दी सीखने लगता हैं.