October 16, 2021

DR NAGENDER YADAV

INDIA FIRST VET YOUTUBER

तोते को बोलना कैसे सिखायें ?

पक्षी  को बोलना सिखाना एक कला है जिसमें थोड़ा धैर्य आत्मविश्वास एकाग्रता समर्पण व समय होना चाहीए ,आपने जो भी पक्षी चुना है उसके बारे में आपको जानकारी होनी चाइये। कुछ पक्षियों में बोलने व् सिखने की क्षमता अधिक होती है वो पूरी तरह से बोल पाते है जबकि कुछ केवल सिटी ही बजा सकते है।

पक्षिओ की कुछ प्रजातियां ही बोल सकती है जिसमे प्रमुख है ;अफ्रीकन तोता ,बजरीगर। अमेज़न प्रजाति के तोते ,मोंक पैरेट ,पहाड़ी तोता ,पहाड़ी मैना ,कॉकटेल प्रजाति के तोते व काकातू प्रजाति के तोते प्रमुख है.

सबसे पहले पक्षी और अपने बीच मजबूत रिश्ता बनाये ,पक्षी को प्यार से बोले व उसके और अपने बीच का डर खत्म कर दे पक्षी को अपनी आवाज में बार बार बुलाये जिससे वो आपकी आवाज को पहचान सके इस प्रक्रिया में कुछ महीनो का समय लग सकता है अपने पक्षी के साथ रोजाना खेले ताकि उसके मन से डर ख़तम हो जाए और रिश्ता मजबूत बनना शुरू हो जाएगा ,पक्षी को सिखाने के लिये एक टाइम टेबल का रूटीन फॉलो करना होगा कोई भी ट्रेनिंग सेशन पांच मिनट से ज्यादा नहीं होना चाइये एक दिन में दो बार से ज्यादा ट्रेनिंग न करे

शुरुआत कैसे करे

शुरू में छोटे शब्दों का चयन करे जैसे hello,bye bye,good day,good night आदि पक्षी का एक नाम भी रख ले जब भी उसके पास से जाये नाम लेकर बुलाये पक्षी जब भी किसी शब्द पर ख़ुशी जाहिर करता है तो उसका हौसला बढ़ाये जब आपके और पक्षी बॉन्डिंग लेवल मजबूत हो जाए तो उसे अपने हाथो पर बैठाकर बात करना शुरू करे पक्षी की आँखों में आंखे डालकर बाते करे जब आप पक्षी को सिखाते है तो किसी दोस्त की मदद भी ले सकते है जब दो दोस्त आपस में बाते करते है तो पक्षी उनकी बातो को बहुत जल्दी सीखता है शब्दों को बार बार दोहराते रहे जैसे पक्षी आपके हाथो पर बैठा है तो\up शब्द का प्रयोग बार बार करे और अपने हाथो को भी साथ में ऊपर की और उठाते रहे यही प्रक्रिया डाउन शब्द के लिये बार बार दोहरानी है पक्षी जब भी कोई कार्य करके दिखाता है उसको इनाम के तोर पर ट्रीट्स अवश्य दे पक्षियों को आवाजे बहुत पसंद होती है उन्हें अलग अलग आवाजों के संपर्क में लाए पक्षिओ को संगीत की धुनें बहुत पसंद होती यदि आप उनको रोजाना फ़िल्मी गानों की धुनें सुनायेंगे तो वे उसकी नक़ल बहुत आसानी से कर लेते है जब भी कोई पक्षी किसी धुन को याद कर लेता है तो फिर उसे जीवन भर नहीं भूलता कोई भी ट्रेनिंग सेशन पांच मिनट से ज्यादा नहीं होना चाइये पक्षी को सिखाते वक्त आपको धैर्य से से काम लेना होगा कुछ तोते की नस्ले कुछ महीनो में सिख जाती है जबकि कुछ को वर्षो का समय लग जाता है इसलिए धैर्य से काम ले व पक्षी का सम्मान करे

अधिक जानकारी के लिए आप हमारे youtube चैनल पर विजिट कर सकते है।